बागेश्वर:डीएम अनुराधा पाल की अध्यक्षता में तहसील दुगनाकुरी में तहसील दिवस का आयोजन,18 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें से 08 का मौके पर ही निस्तारण

ख़बर शेयर करें

बागेश्वर जिलाधिकारी अनुराधा पाल की अध्यक्षता में मंगलवार को तहसील दुगनाकुरी में आमजन की समस्याओं के निराकरण हेतु तहसील दिवस का आयोजन किया गया। तहसील दिवस में सड़क, सिंचाई, विद्युत, सुरक्षा दीवार, राशन कार्ड, पंचायत भवन, मुआवजा आदि से सम्बन्धित कुल 18 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें से 08 का मौके पर ही निस्तारण किया गया।

जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील दिवस में जिन समस्याओं का निस्तारण संभव नही हो पाया है उन सम्स्याओं को सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को हस्तगत की जा रही हैं, उन सभी समस्याओं का समबद्धता एवं प्राथमिकता से निस्तारण करना सुनिश्चित करें और कृत कार्यवाही से फरियादियों को भी अवगत कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि आमजन की समस्याओं का निस्तारण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसलिये जनता की कोई भी समस्या हो, उसका निस्तारण व्यक्तिगत रुचि लेकर हल करना सुनिश्चित करें। उन्होंने मार्गदर्शित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी अच्छे लोकसेवक की भावना से कार्य करते हुए जनता के चेहरों पर मुस्कराहट लाने का काम करें। उन्होंने जिला पंचायतराज अधिकारी को रोस्टर के अनुसार ग्राम सभाओं में खुली बैठके आयोजित करने व जो विभाग नहीं आता उसकी सूचना उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने सभी विभागों को 02 लाख तक के मरम्मत कार्य कार्यदायी संस्थाओं के माध्यम से 10 दिन के भीतर अनिवार्य रूप से भेजने के निर्देश भी दिए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः (Big news)- यहां खेलते वक्त नदी में डूबा भाई, बचाने नदी में उतरा बड़ा भाई भी डूबा

तहसील दिवस में पुष्पा देवी, बंसती देवी, पार्वती देवी तथा किशन राम निवासी गडेरा ने गौशाला व शौचालय बनायें जाने सहित अन्य समस्यायें रखी जिस पर जिलाधिकारी ने ग्राम विकास अधिकारी, ग्राम पंचायत विकास अधिकारी व पटवारी को मौके पर जाकर निरीक्षण कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। मंगल सिंह निवासी बाफिलागांव ने जाजरी के पहेलिया मंदिर के पास सोलर पंप लगाने व बाफिलागांव में शौचालय निर्माण कराने की मांग रखी। सलीगांव ग्रामीणों ने गांव में पेयजल उपलब्ध कराने की मांग रखी, जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 जल संस्थान व जल निगम को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। ग्राम प्रधान उमा देवी ने क्षेत्र में बाढ सुरक्षा कार्य कारायें जाने की मांग रखी। ग्राम प्रधान रंगदेव ने पंचायत भवन बनाने की मांग रखी। हीरा देवी निवासी गडेरा ने राशन कार्ड बनाने की मांग रखी, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी व जिला पंचायत राज अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। रंगदेव के ग्रामीणों व गोविन्द सिंह निवासी पडाई ने झूलते विद्युत तारों को ठीक करने तथा जीर्ण-शीर्ण विद्युत पोल बदलने की मांग रखी जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 को कहा कि क्षेत्र में इस प्रकार की शिकायतें ज्यादा आ रही हैं, आज ही मौके पर जाकर जहां भी इस प्रकार की समस्या आ रही है उसे दूर करने के सख्त निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  मुख्य कृषि अधिकारी बागेश्वर पर जान से मारने की नीयत से फायर करने वाले अभियुक्त को पुलिस ने महज कुछ ही घंटों में किया गिरफ्तार

तहसील दिवस के उपरांत जिलाधिकारी द्वारा जनपद अन्तर्गत बर्फवारी व शीतलहर की सम्भावना के –दृष्टिगत विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली तैयारियों के संबंध में समीक्षा बैठक ली। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने सड़क मार्गो से जुडे सभी अधिकारियों को बर्फवारी से अवरूद्ध होने वाले मोटर मागोर्ं को तत्काल सुचारू करने के निर्देश दियें, जेसीबी इत्यादि के लिए टैण्डर प्रक्रिया जल्द करने के निर्देश दिए। यह भी निर्देश दिये कि बर्फबारी के दौरान अवरूद्ध होने वाले मोटरमागोर्ं एवं यातायात हेतु सूचारू किए गये मोटर मार्गों की अद्यतन सूचना संबंधित तहसीलों समेत नियमित रूप से जिला आपदा प्रबन्धन कार्यालय को अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराई जाय। जिलाधिकारी ने सभी उपजिलाधिकारियों एवं अधि0अधि0 नगर पालिका, नगर पंचायत को निर्देश दियें कि जनपद के चिन्हित स्थानो में नियमित रूप से अलाव जलाने की व्यवस्था की जाए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:पब्लिक ट्रांसपोर्ट की फ्रीक्वेंसी बढ़ाने के साथ ही वाहनों की टाइमिंग भी सुनिश्चित किया जाए -डॉ. एस.एस. संधु मुख्य सचिव

जिलाधिकारी ने विद्युत विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि बर्फबारी के दौरान विद्युत लाईनों के क्षतिग्रस्त होने पर उनके संबंध में की जाने वाली वैकल्पिक व्यवस्थाओं के लिए आवश्यक कार्यवाही की जाए। जिलाधिकारी ने बर्फबारी के दृष्टिगत चिकित्सा एवं पशुपालन विभाग को आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने खाद्य आपूर्ति विभाग को आवश्यक वस्तुओं का पर्याप्त स्टॉक रखने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को जनपद के बर्फबारी के दृष्टिगत संवेदनशील क्षेत्रों में संचालित हो रहे स्कूलों का चिन्हीकरण करने के निर्देश दियें। उन्होंने कहा कि जनपद में संवेदनशील क्षेत्रों को चिन्हीकरण करते हुए सभी विभाग परस्पर संमन्वय एवं एकजुट रूप में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें जिससे त्वरित बचाव एवं राहत कार्यो का संपादन किया जा सके।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, उपजिलाधिकारी हरगिरि, गरूड राजकुमार पांडे, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, खेल अधिकारी सीएल वर्मा, अधि0अभि0जल संस्थान सीएस देवडी, ग्रामीण निर्माण विभाग रमेश चन्द्रा, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, महाप्रबंधक उद्योग जीपी दुर्गापाल, युवा कल्याण अधिकारी अर्जुन सिंह रावत,तहसीलदार दीपिका आर्या समेत अनेक अधिकारी व आमजन मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments