बागेश्वर: उत्तरायणी मेला 2023 की तैयारियों को लेकर बैठक,जानिए क्या रहा बैठक में

ख़बर शेयर करें

बागेश्वर उप जिलाधिकारी हरगिरि की अध्यक्षता में धार्मिक एवं ऐतिहासिक उत्तरायणी मेला, 2023 की तैयारियों को लेकर जनपद के गणमान्य, प्रतिष्ठित व्यक्तियों, व्यापारियों तथा विभागीय अधिकारियों के साथ प्रथम बैठक तहसील सभागार में सम्पन्न हुई।

बैठक में विभिन्न व्यवस्थाओं पर लोगों के सुझाव लिये गये तथा विचार विमर्श किया गया। तहसील सभागार में उत्तरायणी मेले की तैयारियों सम्बन्धी बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपजिलाधिकारी ने कहा कि उत्तरायणी मेला बागेश्वर की पहचान है, मेले को शान्तिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए सभी का सहयोग होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बागनाथ मन्दिर की सजावट पुष्पों से की जायेगी। कहा कि सभी को नकारात्मक सोच से हटकर सकारात्मक सोच के साथ पिछली गलतियों को सुधारने का प्रयास करना चाहिए। मेले को भव्य रूप देने के लिए पूरी कोशिश की जायेगी, ताकि बाहर से आने वाले लोग भी अच्छा संदेश लेकर जाएं। मेले की व्यवस्थाओं पर आपस में विचार विमर्श कर मेले को आकर्षक एवं भव्य रूप देने का पूरा प्रयास किया जायेगा। मेले में स्थानीय कलाकारों व पारम्परिक विधाओं को उजागर करने का मौका मिले तथा झोड़ा, चांचरी, छपेली, स्थानीय सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी प्राथमिकता से हो पर भी चर्चा की गयी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(गजब) सरकारी विभाग में नौकरी लगाने के नाम पर लोगो से ठगी करने वाला , फसा पुलिस के जाल में

यातायात व्यवस्था पर चर्चा करते हुए तय किया गया कि यातायात व्यवस्था इस प्रकार हो कि मेलार्थियों व श्रद्धालुओं के आवागमन में किसी तरह की अनावश्यक परेशानियों का सामना न करना पडे तथा जाम की स्थिति भी उत्पन्न न हो।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (big news) पूर्व राज्यसभा सांसद कांग्रेस के शीर्ष नेता प्रदीप टम्टा ने स्मैक के बढ़ते चलन पर कही ये बड़ी बात,देखिए विडियो भी

सफाई व्यवस्था पर चर्चा करते हुए उपजिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को मेला शुरू होने से पूर्व सड़कों, नालियों,गलियों, मेला क्षेत्र, नदी तट, घाटों तथा मन्दिरों आदि की पर्याप्त सफाई व्यवस्था के निर्देश दिये। तथा सिंचाई विभाग द्वारा नदी के तटबन्धों की सफाई, रंगरोगन की कार्यवाही समय से सुनिश्चित की जाएगी। शौचालय व्यस्था के सम्बन्ध चर्चा करते हुए नगरपालिका परिषद को साफ-सफाई की उचित व्यवस्था करने को कहा गया। उपजिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी को अस्थाई दुकानों के आवंटन में पूरी पारदर्शिता बरतने के निर्देश देते हुए कहा कि इस हेतु पूरा प्लानं तैयार किया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (मौसम अलर्ट) प्रदेश के चार जिलों में भारी बारिश और बर्फबारी का अलर्ट

बैठक में उपस्थित गणमान्य लोंगो ने मेले को आकर्षक बनाने पर बल देते हुए कहा कि मेला हमारी सांस्कृतिक, पौराणिक, व्यापारिक पहचान है इसे हम सभी लोगों को प्राथमिकता के साथ संरक्षित करना होगा तथा मेले को भव्य रूप देने के लिए सभी के सहयोग की आवश्यकता है।

बैठक मे अध्यक्ष व्यापार मंडल कवि जोशी, चेयरमैन रेडक्रास संजय शाह जगाती, वरिष्ठ नागरिक दलीप खेतवाल, इन्द्र सिंह परिहार, बाला दत्त तिवारी, जयंत भाकुनी, पूर्व अध्यक्ष व्यापार मंडल हरीश सोनी, कोतवाल कैलाश सिंह नेगी, अध्यक्ष मंदिर समिति नन्दन सिंह रावल, दीपक पाठक, अधिशासी अधिकारी सतीश कुमार, जिला महामंत्री व्यापार मंडल अनिल कार्की आदि मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments