कोरोना के नए वेरिएंट BF.7 का देश में पहला मामला यहां आया सामने,उत्तराखंड में भी जल्द होगी जारी SOP

ख़बर शेयर करें

वर्तमान में विश्व के कई देशों में कोविड-19 के नए वैरीअंट के लगातार बढ़ रहे मामलों के बाद जहां केंद्र सरकार ने राज्यों को एडवाइजरी जारी की है तो वही देश में इस नए वेरिएंट का पहला मामला भी सामने आया है । गुजरात के अहमदाबाद और वडोदरा में कोरोना BF.7 का नया वैरिएंट सामने आया है। स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, कोरोना के दो सब वेरिएंट BA.5.2 और BF.7 कोरोना के दूसरे वैरिएंट से ज्यादा खतरनाक हैं।नई दिल्ली : दुनियाभर में एक बार फिर कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, भारत भी कोविड वायरस की संभावित लहर से लड़ने के लिए तैयार है, बीएफ.7 ओमिक्रॉन सब-वैरिएंट एक बार फिर सुर्खियों में है क्योंकि चीन जैसे देशों में इस वैरिएंट ने खूब कहर बरपा रखा है।इसे ओमिक्रॉन स्पॉन भी कहा जाता है। बीएफ.7 सब-वैरिएंट, पहली बार अक्टूबर में भारत में पाया गया था, यह उसी का नया रूप है, जिसमें उच्च संप्रेषणीयता है, स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, ऐसा इसलिए है क्योंकि नया वैरिएंट जल्दी से उस प्रतिरक्षा को दरकिनार कर देता है जो किसी व्यक्ति ने पहले वाले वैरिएंट के साथ प्राकृतिक संक्रमण के माध्यम से विकसित किया है और भले ही टीकों की सभी डोज लग चुकी हों।हरिद्वार दौरे पर आए उत्तराखंड के स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने इस बारे में जानकारी दी। हरिद्वार में विभागीय मंत्री धन सिंह रावत ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक भी ली। उन्होंने बताया कि भारत सरकार भी चीन में बढ़ते कोरोना संक्रमण पर नजर बनाए हुए है, जिसको देखकर वह जल्दी अपनी गाइडलाइन देगी। उसके बाद उत्तराखंड सरकार भी कोरोना की नई गाइडलाइन जारी करेगा।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- प्रदेश में यहां खनन विभाग एक्शन में, 18 क्रेसर सील, खनन कारोबारियों में हड़कंप
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments