उत्तराखंड:हरिद्वार में अपहरण हुवे 8 माह के नन्हे बच्चे को पुलिस ने किया सकुशल बरामद ,सीएम धामी ने भी लिया था इस पूरे मामले में शख्त रुख

ख़बर शेयर करें

हरिद्वार में अपहृत आठ माह के बच्चे को पुलिस ने बरामद कर लिया है ।मुख्यमंत्री उत्तराखंड पुष्कर सिंह धामी ने हरिद्वार में बच्चे के अपहरण मामले में सख्त सख्त रुख अपनाते हुए एसएसपी हरिद्वार को बच्चे की बरामदगी हेतु कार्यवाही हेतु सख्त निर्देश दिए गए थे।

हरिद्वार में अपहृत आठ माह के बच्चे को पुलिस ने बरामद कर लिया है। बच्चे के अपहरण संबंधी जानकारी मिलने पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरिद्वार एसएसपी को जल्द से जल्द बच्चे का पता लगाये जाने के निर्देश दिये थे।

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर में तहसील दिवस का आयोजन,17 समस्यायें हुई पंजीकृत


हरिद्वार पुलिस ने क्षेत्र के सभी सीसीटीवी खंगालने के साथ ही विभिन्न मुखबिर तंत्र, मीडिया, जनता के मध्य सूचना प्रचारित प्रसारित की।इसका परिणाम भी देखने को मिला और बच्चे के संबंध में जानकारी मिलने पर 8 माह के बच्चे को पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है। अन्य कार्यवाही की गई।

हरिद्वार में ज्वालापुर स्थित कड़क मोहल्ले से शनिवार को चोरी हुए आठ महीने के बच्चे शिवांग को पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है। इस मामले में पुलिस ने दो महिलाओं को हिरासत में लिया है। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि संजय नाम के व्यक्ति ने महिलाओं को बच्चा दिया था। पुलिस की टीम महिलाओं से पूछताछ करने में जुटी । जिसके बाद इस मामले में कुल 6गिरफ्तारियां हुई, जिसबच्चे के चोरी होने के बाद से पुलिस महकमे के अफसरों की नींद उड़ी हुई थी। लगातार कई घंटे से पुलिस टीमें सीसीटीवी कैमरे चेक करने के साथ ही चप्पे-चप्पे को खंगालने में जुटी हुई थी। देर रात तक सर्च अभियान के बाद भी मासूम का कुछ पता नहीं चल पाया था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड -(Big News) प्रदेश में आगामी दिनों में मौसम बदलने की संभावना, इन जिलों में वर्षा का पूर्वानुमान

रविवार की सुबह रोड़ी बेलवाला चौकी प्रभारी प्रवीन रावत टीम के साथ चेकिंग अभियान में जुटे हुए थे। इसी बीच सप्तऋषि क्षेत्र में दो महिलाएं संदिग्ध प्रतीत हुई तो उन्होंने उन्हें रोककर पूछताछ की। महिलाओं की गोद में एक बच्चा था। जिसे देखने के बाद उन्होंने फोटो से मिलान किया तो वह ज्वालापुर से चोरी हुआ आठ महीने का शिवांग निकला। इसके बाद पुलिस ने दोनों महिलाओं को हिरासत में ले लिया। सूचना मिलते ही ज्वालापुर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। और पूरे मामले की परतें खुलती गई।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:पब्लिक ट्रांसपोर्ट की फ्रीक्वेंसी बढ़ाने के साथ ही वाहनों की टाइमिंग भी सुनिश्चित किया जाए -डॉ. एस.एस. संधु मुख्य सचिव
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments