उत्तराखंड:धर्मांतरण विरोधी संशोधन विधेयक को दी राजभवन ने मंजूरी,अब जबरन धर्मांतरण होगा संज्ञेय अपराध

ख़बर शेयर करें

देहरादून: धर्मान्तरण विरोधी संशोधन विधेयक को राजभवन ने मंजूरी दे दी है अब राज्य में जबरन धर्मांतरण के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का रास्ता साफ हो गया है।

औपचारिक नोटिफेशन के बाद यह विधेयक कानून का

रूप ले लेगा। इसके साथ ही राज्य में जबरन धर्मांतरण संज्ञेय अपराध की श्रेणी में आ जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बिग न्यूज) प्रदेश की इस भर्ती में रिजल्ट निरस्त 3247 अभ्यर्थियों का

राजभवन की मंजूरी के साथ विधेयक विधि विभाग मिल गया है। इसके बाद अब आगे की कार्यवाही शुरू की जा रही है। सरकारी प्रेस से इसकी प्रतियों का प्रकाशन कराया जाएगा और पुराने कानून में बदलाव हो जाएगा। सरकार विधानसभा के शीतकालीन सत्र में यह बिल लाई थी। जबरन कराए जाने वाले धर्मांतरण के खिलाफ कड़ी कार्रवाई को लेकर राज्य में लंबे समय से मांग उठ रही थी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी इस विधेयक पर शुरू से काफी गंभीर थे। विधानसभा में 29 नवंबर को सरकार ने उत्तराखंड धर्म स्वतंत्रता संशोधन विधेयक पेश किया। अगले दिन इसे पारित कर दिया गया।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर में तहसील दिवस का आयोजन,17 समस्यायें हुई पंजीकृत
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments