उत्तराखंड:भैया दूज आज, देखिये क्या है शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

ख़बर शेयर करें

हिंदू धर्म में भाई दूज के पर्व का विशेष महत्व है। इस बार भाई दूज आज 27 अक्टूबर को मनाया जा रहा है। हर साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को भाई दूज का त्योहार माना जाता है। भाई दूज के मौके पर बहन भाई के माथे पर टीका करती है। आरती उतारकर उनकी लंबी आयु की कामना करती हैं। यह प्रथा सदियों पुरानी है।
भाई दूज 2022 शुभ मुहूर्त

भाई दूज: 27 अक्टूबर 2022

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर: वनाग्नि सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न,वनाग्नि काल 2023 की चुनौतियों को लेकर हुई आवश्यक चर्चा

– भाई दूज पर तिलक का समय: 12.14 से 12.47 तक

– तिलक की अवधि: 33 मिनट

भाई दूज पूजा विधि
भाई दूज पर्व के दिन भाई-बहन सुबह जल्दी उठकर ब्रह्म मुहूर्त में स्नान करें और घर के मंदिर में दीप प्रज्ज्वलित करें। इस दिन भगवान विष्णु और भगवान गणेश की पूजा का विशेष महत्व है। भाई दूज के दिन बहन अपने घर पर भाई को बुलाकर उन्हें तिलक लगाएं और अपने हाथों से परोसकर भोजन कराएं। शुभ मुहूर्त में भाई को तिलक लगाने से उन्हें जीवन में सफलता प्राप्त होती है और आने वाली सभी बाधाएं दूर हो जाती हैं। भाई को तिलक लगाने के बाद उनकी आरती उतारें और हाथ में रक्षा सूत्र बांधें। फिर मिठाई खिलाएं।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर में तहसील दिवस का आयोजन,17 समस्यायें हुई पंजीकृत
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments