उत्तराखंड-(big news)यहां कलयुगी पत्नी ने आशिक संग मिल पति को एसे उतारा मौत के घाट

ख़बर शेयर करें

देहरादून- उत्तराखंड से एक ऐसी घटना सामने आई है जहां पत्नी के प्रेम प्रसंग में पति बाधा बना तो पत्नी ने प्रेमी संग मिल उस को मौत के घाट उतार दिया मामला मंगलवार को देहरादून ई-रिक्शा चालक की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया है पत्नी व प्रेमी ने दो लाख की सुपारी देकर करायी थी। पुलिस ने पत्नी सहित पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

यहां इसकी जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप कुंवर ने बताया कि 29 नवम्बर को गुच्चूपानी में ई-रिक्शा चालक का शव मिला था जिसके सिर पर वार कर हत्या की गयी थी। पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी।एसएसपी ने बताया कि घटना के दौरान क्षेत्र में काम करने वाले पांच संदिग्ध मोबाइल नम्बरों की जांच की गयी तो एक नम्बर अरशद पुत्र इकबाल निवासी बागपत का था जिसकी लोकेशन निकाली गयी तो उसकी लोकेशन बल्लूपुर चौकी की मिली।जिसके बाद पुलिस टीम ने अरशद को गिरफ्तार कर लिया। जिसने पुलिस को बताया कि मृतक मोहसिन की पत्नी शीबा उर्फ सीमा के शाबिर अली से अवैध सम्बन्ध थे जिसमें मोहसिन बाधा बन रहा था। साबिर अली व शीबा के कहने पर रईस खान ने उनको मोहसिन को मारने के लिए दो लाख रूपये की सुपारी दी थी। जिसके बाद उसने अपने साथी शाहरूख व रवि को अपने साथ मिला लिया था। रईस ने उनको बीस हजार रूपये एडवांस दिये थे। घटना के दिन अरशद, रवि व शाहरूख मोहसिन का ईरिक्शा से गुच्चूपानी आ गये तथा वहां पर उन्होंने शराब लेकर गुच्चूपानी पार्किग के पास शराब पीने लगे। जब अंधेरा हो गया और मोहसिन नशे मे हो गया तो रवि ने एक पत्थर उठाकर मोहसिन के सिर पर वार किया और उसके बाद उन्होंने ने भी उसके सिर पर पत्थरों से वार कर उसकी हत्या कर दी थी। वह आज रईस से बकाया रूपया लेने आये थे।
अरशद की निशानदेही पर पुलिस ने रवि व शाहरूख को गिरफ्तार करने के पश्चात साबिर अली व शीबा को भी उनके घर से गिरफ्तार कर लिया गया। रईस खान पुलिस के हाथ नहीं आया। पुलिस ने सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनको न्यायालय में पेश किया जहां से उनको न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बिग न्यूज) प्रदेश की इस भर्ती में रिजल्ट निरस्त 3247 अभ्यर्थियों का
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments