उत्तराखंड-(दुःखद खबर)पौड़ी सड़क दुर्घटना मातम में बदली शादी की खुशिया , 27 की मौत की खबर, कई गम्भीर

ख़बर शेयर करें

पौड़ी गढ़वाल- उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जनपद अंतर्गत बीते रोज हुवे दर्दनाक बस हादसे में 25 लोगों की मौत हो चुकी है , एसडीआरएफ- प्रशासन द्वारा 21 घायलों को सुरक्षित रेस्क्यू कर अस्पताल पहुंचाया जा चुका हैं राहत और बचाव कार्य जारी है। मंगलवार शाम धुमाकोट के बीरोंखाल से रिखणीखाल मार्ग पर स्थित सिमणी गांव के नज़दीक एक बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई है, जिसमें लगभग 45 से अधिक लोग सवार थे। बारातियों से भरी बस गहरी खाई में गिर गई है। इस बस दुर्घटना में 25 लोगों की मौत हो गई है, मृतकों की संख्या बढ़ भी सकती है। यह बारात हरिद्वार जिले के लालढांग से पौड़ी जिले के कांडा जा रही थी। जबकि 21 लोगों को रेस्क्यू कर बचाया गया।अभी तक की अपडेट के अनुसार बस ग्राम सिमड़ी के पास बरातियों से भरी थी, जो हादसे का शिकार हो गई। एसडीआरएफ द्वारा मंगलवार देर रात राहत बचाव कार्य चलाने के बाद आज बुधवार को तड़के दोबार रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया।

डीजीपी अशोक कुमार के अनुसार अब तक खाई से 25 शव बरामद किए जा चुके हैं। ब्लाक प्रमुख राजेश कंडारी ने बताया कि बस करीब 350 मीटर नीचे खाई में गिरी है। बीरोखाल स्वास्थ्य केंद्र से पांच डाक्टरों की टीम मौके पर भेजी गई हैं। सीएम पुष्‍कर सिंह धामी ने घटना पर दुख जताया है बस में सवार लालढ़ाग निवासी ने पंकज ने बताया कि मंगलवार दोपहर 12 बजे बस लालढांग से कंडा मल्ला की ओर रवाना हुई। मंगलवार शाम करीब 7 बजे बस अनियंत्रित होकर खाई में जा गिरी। बस में सवार 8-10 अन्य लोग किसी तरह खड्डे से बाहर निकल कर आए। मोबाइल फोन से अपने परिचितों को घटना की सूचना दी। बस का पट्टा टूटने के कारण बस अनियंत्रित हो गई और खड्ड में जा गिरी। हादसे की खबर मिलने के बाद ग्रामीण छह घायलों को बस से बाहर निकाल सड़क पर ले आए हैं। अभी तक खबर के अनुसार 25 लोगों की मौत हो चुकी है।हादसे की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष में पहुंच गए, मुख्यमंत्री यहां से संबंधित अधिकारियों को राहत और बचाव कार्य के निर्देश दिए। पौड़ी जिले में बस दुर्घटना की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम पहुंचे। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से दुर्घटना के बारे मे विस्तार से जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने डीएम पौड़ी से फोन पर बात कर उन्हें पूरी सतर्कता के साथ राहत और बचाव कार्य करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने राज्य आपदा कंट्रोल रूम के अधिकारियों को हालात पर लगातार नजर बनाए रखने और जिले के अधिकारीयों से लगातार सम्पर्क में रहने के निर्देश दिये। कहा कि शासन स्तर से हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराई जाए।मुख्यमंत्री ने फोन पर विधायक लैंसडाउन से भी बात की। मुख्यमंत्री ने बुधवार के प्रस्तावित सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए है।
वीरोंखाल बस दुर्घटना में मरने वालों की संख्या पहुंची 27

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर:(बिग न्यूज) जिले में यहां अज्ञात महिला का शव मिलने से मचा हड़कंप, पुलिस जुटी जांच में

2 घायलों ने कोटद्वार अस्पताल में तोड़ा दम

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments