उत्तराखंड: प्रदेश के पहाड़ों में भी फैलती लैंटाना चिंता का विषय आंखिर क्यों?देखिए विडियो

ख़बर शेयर करें
विशेष विडियो लैंटाना पर आधारित

उमेश सिंह मेहता
उत्तराखंड:प्रदेश में बीते कुछ सालों की अगर बात करें तो यहां लैंटाना अर्थात कुरी घास बड़ी समस्या बनकर सामने आई है इस घास ने जहां एक ओर मैदानी क्षेत्रों में जमकर फैलाव किया वहीं अब प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्र भी इसकी जद में है ।पहाड़ी जनपदों में भी लैंटाना ने जमकर फैलाव किया है पहाड़ों में जहां जंगलों में जहां इसका बड़ा फैलाव होता जा रहा है वहीं अब लैंटाना खेत खलिहानों में देखने को मिल रहा है ।अभी तक जो देखने को मिला है ,जिस भूमि को बंजर छोड़ा गया है वहां पर तो इस कुरी घास का फैलाव बड़ी ही तेजी से हो रहा है,और तो और इसकी कटीली पत्ती होने के चलते इसे जीव जंतु भी नही चरते जिसके चलते ये लगातार फैलता ही जा रहा है ,ये पौध जहां होता है वहां दूसरे पौध को पनपने भी नही देता इतना ही नहीं इसे जितना काटो उतना ही अधिक ये पौध पनपता है वहीं वन क्षेत्र में तो ये इतनी तेजी से फैलता जा रहा है कि वहां अन्य अनमोल वनस्पति के लिए भी ये पौध खतरा बनता जा रहा है।कुछ क्षेत्रों में इसके पौधों को उपयोग में लाया जा भी रहा है इससे टोकरी,हैंगर,बटन,चूड़ी स्टैंड,आदि सामग्री निर्मित की जा रही है इसके अलावा भी इसकी पत्तियों का पाउडर बनाकर अगरबत्ती निर्माण भी किया जा रहा है ।लेकिन ये भी सीमित है जिसकी तुलना में इस घास का फैलाव बहुत अधिक है जो कि बेहद चिंताजनक है।

देखिए लैंटाना अर्थात कुरी घास पर आधारित खास विडियो एक क्लिक में:-

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बिग न्यूज) कैबिनेट मंत्री धन सिंह मिले केंद्रीय शिक्षा मंत्री से , रखी यह मांग
विशेष विडियो
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments