बागेश्वर:राष्ट्रीय कुमाऊनी भाषा एवं साहित्य पुस्तकालय दूसरा स्थापना दिवस,चंदन व रुद्राक्ष के पौधे भी किए भेंट

ख़बर शेयर करें

आज उत्तरायण पर्व बड़ा दिन के अवसर पर देवकी लघु वाटिका मंडलसेरा बागेश्वर में राष्ट्रीय कुमाऊनी भाषा एवं साहित्य पुस्तकालय दूसरा स्थापना दिवस मनाया गया इस शुभ अवसर पर मुख्य अतिथि डा०के एस रावत मौजूद रहे।इस दौरान पर्यावरण विद किशन सिंह मलड़ा विशिष्ट अतिथि के तौर पर समाजसेवी रमेश प्रकाश पर्वती ,गोपाल बोरा,समेत कई जागरूक प्रतिभागियों ने काव्य पाठ किया इस दौरान कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों को चंदन,रुद्राक्ष के पौधे भेंट किए गए इस दौरान पर्यावरण के क्षेत्र में शानदार कार्य कर रहे किशन सिंह मलड़ा ने आंगन बड़ी केंद्र मंडलसेरा तथा धोलाड़ी को जिलाधिकारी की प्रेरणा से गोद लिया और केंद्र को दरिया, आसन और बच्चों को उपहार भेट किए

साथ ही बालिका जन्म पर दो दो पौधे चंदन के भेंट किए ,वहीं कवियों ने पर्यावरण संरक्षण तथा वर्तमान की सामाजिक स्थितियों पर कविता पाठ कर आईना दिखाने का कार्य किया इस दौरान कार्यक्रम में बालम सिंह मलडा,राजेश चंद्र पांडे,देवकी देवी,हरीश गिरी,जोगा सिंह,समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बिग न्यूज) प्रदेश की इस भर्ती में रिजल्ट निरस्त 3247 अभ्यर्थियों का
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments