BIG NEWS:रात्रि 1:58 में आएभूकंप के झटके नेपाल समेत दिल्ली एनसीआर, यूपी,बिहार में भी किए गए महसूस,यहां 6 की मौत की खबर

ख़बर शेयर करें

राजधानी दिल्ली-एनसीआर के इलाके यूपी,बिहार,समेत उत्तराखंड में भूकंप के झटके महसूस किए गए। रात 1:58 पर काफी तेज झटके महसूस किए गए। कई लोगों को अपनी चारपाई अथवा बेड हिलते महसूस हुए तो वे उठ बैठे। यह भूकंप अनुमानित 6से 8 सेकेंड लंबा था और जोरदार झटके अनुभव किए गए। भूकंप से उत्तराखंड भी कांप उठा

रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.3 मापी गई. नेपाल के दोती जिले में भूकंप के बाद एक घर गिरने से लगभग 2:12 बजे 3 लोगों की मौत हो गई। कई इलाकों में तो एक के बाद एक तीन झटके महसूस किए गए।
भूकंप का मध्य केंद्र इस तरह से भारत और नेपाल के बीच में रहा
इसके बाद फिर 3:15 बजे फिर 3.6 की तीव्रता पर भूकंप महसूस किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर:(जनता दरबार) 21 शिकायतें दर्ज पेयजल, सड़क, शिक्षा, मुआवजा व आवास संबंधित शिकायतें प्रमुख

नेशनल सेंटर फॉर सेसमोलॉजी के मुताबिक भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.3 आंकी गई है, जिसका केंद्र नेपाल में धरती से करीब 10 किलोमीटर नीचे थे। इस भूकंप का असर चीन तक दिखा है।उत्तराखंड के लगभग सभी स्थानों पर भूकंप के झटके महसूस किए गए यह झटके 1:57 मिनट पर आए लोगों के घर पंखे और सोते हुए रहने की वजह से उनके बेड भी खेलते हुए महसूस किए गए लोगों ने इस दौरान अपने सो रहे लोगों को बताया जो गहरी नींद में सोए हुए थे खटीमा चंपावत देहरादून टिहरी रुद्रप्रयाग पौड़ी नैनीताल बागेश्वर अल्मोड़ा में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हल्द्वानी में 1:58 पर यहां झटके महसूस किए गए गहरी नींद में सोए लोग अचानक इस अचानक आए भूकंप से उठ खड़े हुए लेकिन यह इतना बड़ा नहीं था कि लोग बाहर आए और उसने में भूकंप थम गया लेकिन सबसे बड़ी बात यह है कि लोगों के दिलों में भूकंप दहशत बनी रही इसलिए कई लोग बाद में सोए भी नहीं. उत्तराखंड पहाड़ी क्षेत्र और भूकंप की वजह से संवेदनशील होने की वजह से भूकंप की जद में रहता है लेकिन शुक्र रहा कि किसी भी प्रकार का कोई नुकसान उत्तराखंड में नहीं होने का समाचार है।

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर:(बिग न्यूज) जिले में यहां अज्ञात महिला का शव मिलने से मचा हड़कंप, पुलिस जुटी जांच में

इस प्रकार भूकंप से नेपाल से मौत का आंकड़ा 3से बढ़कर बी 6लोगों की मौत की खबर सामने आ रही है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:पब्लिक ट्रांसपोर्ट की फ्रीक्वेंसी बढ़ाने के साथ ही वाहनों की टाइमिंग भी सुनिश्चित किया जाए -डॉ. एस.एस. संधु मुख्य सचिव
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments