शीतलहर को लेकर अहम वीसी के माध्यम से बैठक,आपदा सचिव ने दिए ये निर्देश

ख़बर शेयर करें

बागेश्वर

आपदा सचिव रंजीत सिन्हा ने वीसी के माध्यम से शीतलहर संबंधित बैठक लेते हुए सभी निकायों में अलाव जलाने तथा जरूरतमन्दों को कम्बल वितरण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने अलाव जलाने हेतु लकड़ी की व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा शीतलहर में कोर्इ भी व्यक्ति बाहर न रहे, जरूरतमन्दों को रैनबसेरों में रखने के निर्देश जिलाधिकारियों को दिये, साथ ही रैनबसेरों में पर्याप्त बिस्तरों, हीटर आदि की व्यवस्था सुनिश्चित कर ली जाय।

सचिव आपदा ने निर्देश दिये की सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जनपदों में शीतलहर संबंधित चेतावनी जारी करें, तथा ऊपरी बर्फबारी वाले क्षेत्रों में खाद्यान्न, दवायें आदि व्यवस्थायें सुनिश्चित की जाय तथा बर्फबारी क्षेत्रों में सड़कें खोलने हेतु सड़कों के दोनों छोरों पर जेसीबी रखने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा जहॉ पाला पड़ता है ऐसे सड़कों के दोनों ओर चेतावनी बोर्ड भी लगाने व पाला पिघलाने हेतु नमक, चूने का प्रयोग करने के निर्देश दिये।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंडः (Big news)- यहां खेलते वक्त नदी में डूबा भाई, बचाने नदी में उतरा बड़ा भाई भी डूबा

वीसी में जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने बताया कि जनपद में 49 जगह अलाव जलाने हेतु चिन्हित किये गये है तथा 28 स्थानों पर अलाव जलाना प्रारम्भ कर दिया गया है, तथा सभी तहसील स्तर पर 150 कम्बल रखे गये है तथा 31 जरूरतमंदों को कम्बल वितरित किये जा चुके है। उन्होंने बताया कि ऊपर बर्फबारी वाले क्षेत्रों की सड़कों को खोलने हेतु 12 जेसीबी तैनात किये गये है तथा बर्फबारी क्षेत्रों में मार्च तक का खाद्यान्न व दवायें भण्डार किया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि ठंड व बर्फवारी सम्भावना को देखते हुए सभी ट्रेक रूटों पर ट्रेकिंग बंद कर दी गर्इ है। नगर निकायों में 03 अस्थार्इ रैनवसेर चिन्हित किये गये है तथा उनमें पर्याप्त बिस्तर व्यवस्था की गर्इ है। उन्होंने उप जिलाधिकारी, पुलिस, तहसीलदारों को अपने-अपने क्षेत्रों में रात्रि गस्त कराने के निर्देश भी दिये। गस्त दौरान जो भी गरीब-असहाय रात्रि में बाहर मिलते है तो उन्हें रैनबसेरों में भेजने के निर्देश भी दिये। जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को शीतलहर की चेतावनी जारी करने के निर्देश देते हुए विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे श्रमिकों को शीतलहर संबंधित जानकारियॉ श्रमिकों को दें व सभी कार्यदायी संस्थाओं के श्रमिकों को शीतलहर बचाव की पर्याप्त सुविधायें मुहैया कराने के निर्देश भी दिये।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, उप जिलाधिकारी बागेश्वर हरगिरी, कपकोट/काण्डा मोनिका, गरूड़ राजकुमार पाण्डे, पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एन0एस0टोलिया, सीओ एस.एस. राणा, अधिशासी अधिकारी नगरपालिका सतीश कुमार, संजय गड़िया, सड़क महकमों के अधिकारी मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड:पब्लिक ट्रांसपोर्ट की फ्रीक्वेंसी बढ़ाने के साथ ही वाहनों की टाइमिंग भी सुनिश्चित किया जाए -डॉ. एस.एस. संधु मुख्य सचिव
Ad Ad Ad Ad
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments