उत्तराखंड: यहां मासूम को गुलदार ने बनाया निवाला, घर के आंगन से उठा ले गया गुलदार, क्षत-विक्षत हालत में मिला शव

ख़बर शेयर करें

पिथौरागढ़: हाल के कुछ सालों की अगर बात करें तो गुलदार के हमले बढ़े हैं इन हमलों में कई मासूमों की जान गई हैं अब सीमांत जनपद पिथौरागढ़ के बेरीनाग तहसील एक गांव में गुलदार ने घर के आंगन में खेल रही 4 साल की मासूम बच्ची पर हमला बोल दिया। इसके बाद गुलदार बच्ची को उठाकर जंगल की ओर ले गया। परिजनों ने शोर मचाया। तब तक गुलदार बच्ची को लेकर निकल चुका था। यह घटना बीती शाम 7 बजे के आसपास की है।बेरीनाग तहसील मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूर चचरेत ग्राम पंचायत के कलेत गांव का है। घटना के बाद आनन-फानन में परिजनों ने जानकारी वन विभाग को दी। जिसके बाद एसडीओ ज्वाला प्रसाद, वन क्षेत्राधिकारी चंदा महरा, एसडीएम अनिल कुमार शुक्ला प्रभारी निरीक्षक प्रभात कुमार मौके पर पहुंचे।ग्रामीण, वन विभाग और पुलिस बच्ची की खोजबीन की। बारिश और घना जंगल होने के कारण बच्ची को ढूंढने में परेशानियां आई। घटना के तीन घंटे बाद बच्ची का शव क्षत-विक्षत हालत में मिला है। जिसके बाद से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

ग्राम प्रधान महेन्द्र महरा और क्षेत्र पंचायत सदस्य यामनी भट्ट ने शीघ्र गुलदार को मारने की मांग की है। पिछले साल भी चचरेत गांव में गुलदार एक बच्ची को निवाला बनाया था। घटना को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है।

Ad Ad Ad Ad